Oppo A5s Review in Hindi, ओप्पो ए5एस का रिव्यू


Oppo ने हाल ही में भारतीय मार्केट में अपने नए स्मार्टफोन Oppo A5s को लॉन्च किया है। भारत में ओप्पो ए5एस की कीमत 9,990 रुपये है, यह मार्केट में मौजूद Asus ZenFone Max Pro M2 (रिव्यू) और Xiaomi Redmi Note 7 (रिव्यू) जैसे कुछ बेहतरीन स्मार्टफोन से मुकाबला करेगा। Oppo A5s में नए मीडियाटेक हीलियो पी35 प्रोसेसर के साथ 2 जीबी रैम और 32 जीबी स्टोरेज है। ओप्पो ए5एस में जान फूंकने के लिए 4,230 एमएएच की बैटरी दी गई है। क्या इस कीमत में Oppo A5s खरीदना फायदे का सौदा है या आपको अन्य विकल्पों पर विचार करना चाहिए? इस बात का पता लगाने के लिए हमने ओप्पो ए5एस को टेस्ट किया है, आइए जानते हैं इसके बारे में।
 

Oppo A5s का डिज़ाइन

ओप्पो ए5एस हल्का फोन है और इसकी बॉडी प्लास्टिक की बनी है। पहली चीज जो आपका ध्यान खींचेगी वह है इसका 6.2 इंच का बड़ा डिस्प्ले। यह फोन वाटरड्रॉप नॉच के साथ आता है। Oppo A5s के किनारों पर तो पतले बेज़ल हैं लेकिन फोन के निचले हिस्से पर बॉर्डर थोड़ा मोटा है। इयरपीस को ठीक वाटरड्रॉप नॉच के ऊपर जगह मिली है।

ओप्पो ए5एस का बैक पैनल ग्लॉसी प्लास्टिक का बना है जिस पर उंगलियों के निशान आसानी से पड़ जाते हैं लेकिन आपको रिटेल बॉक्स में एक क्लियर केस मिलेगा। Oppo A5s के दो कलर वेरिएंट हैं- एक ब्लैक और दूसरा रेड। ओप्पो ए5एस का फ्रेम घुमावदार है जिस वज़ह से फोन हाथ में आसानी से फिट हो जाता है।
 

Oppo

Oppo A5s में पावर बटन फोन के दाहिनी ओर तो वहीं वॉल्यूम बटन को फोन के बायीं ओर जगह मिली है। वॉल्यूम बटन तक हाथ आसानी से पहुंच जाता है। फोन के निचले हिस्से में लाउडस्पीकर ग्रिल, माइक्रो-यूएसबी पोर्ट और 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक दिया गया है। सिम-ट्रे को फोन के बायीं ओर प्लेस किया गया है।

Oppo A5s डुअल-नैनो सिम स्लॉट और माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट से लैस है। ओप्पो ए5एस के बैक पैनल पर दो रियर कैमरे और सिक्योरिटी के लिए फिंगरप्रिंट सेंसर को जगह मिलेगी। Oppo A5s में जान फूंकने के लिए 4,230 एमएएच की बैटरी दी गई है। Oppo ब्रांड के इस बजट स्मार्टफोन के साथ बॉक्स में VOOC रैपिड चार्जर नहीं मिलेगा।
 

Oppo A5s स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर

ओप्पो ए5एस में 6.2 इंच का एचडी+ डिस्प्ले है, इसका आस्पेक्ट रेशियो 19:9 है। इसके व्यूइंग एंगल अच्छे हैं लेकिन आउटडोर में यह ज्यादा ब्राइट नहीं है। सेटिंग्स में आपको डिस्प्ले के कलर टोन को एडजस्ट करने का विकल्प मिलेगा। स्पीड और मल्टीटास्किंग के लिए Oppo A5s में मीडियाटेक हीलियो पी35 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है जिसकी स्पीड 2.3 गीगाहर्टज़ है।

ग्राफिक्स के लिए Oppo A5s में पावरवीआर जीई8320 जीपीयू का इस्तेमाल किया गया है। ओप्पो ए5एस का केवल एक ही वेरिएंट उतारा गया है जो 2 जीबी रैम और 32 जीबी स्टोरेज वेरिएंट से लैस है। जरूरत पड़ने पर स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड की मदद से बढ़ाना संभव है। Oppo A5s में डुअल 4जी वीओएलटीई, वाई-फाई, ब्लूटूथ वर्जन 4.2, जीपीएस, ग्लोनॉस, Beidou, Galileo, एफएम रेडियो और यूएसबी-ओटीजी शामिल है।
 

Oppo

जब हमने पहली बार फोन को इस्तेमाल करना शुरू किया तो हमारी रिव्यू यूनिट मार्च 2019 सिक्योरिटी पैच पर चल रही थी। लेकिन फोन को अपडेट मिलने के बाद अब यह फोन अप्रैल 2019 एंड्रॉयड सिक्योरिटी पैच पर चल रही है। कलरओएस में ऐप लॉन्चर नहीं है और सभी ऐप आइकन होम स्क्रीन पर हैं।

Oppo A5s में कुछ ब्लोटवेयर हैं। हमारे रिव्यू यूनिट में Facebook, Opera, फोन मैनेज़र, थीम स्टोर, म्यूज़िक पार्टी और गेम स्पेस जैसे ऐप्स पहले से ही प्री-इंस्टॉल हैं। गेम स्पेस खुद-ब-खुद कंपैटिबल गेम को जोड़ लेता है और आपको स्क्रीन ब्राइटनेस को लॉक करने और बैनर नोटिफिकेशन को ब्लॉक करने का विकल्प देता है जिससे की आपके गेमिंग सेशन में किसी तरह की कोई बाधित ना आए।

स्टोरेज को खाली करने के लिए आप इनमें से कुछ ऐप को अनइंस्टॉल भी कर सकते हैं। यूआई के लुक को आप फ्री थीम की मदद से बदल सकते हैं। स्मार्ट साइडबार एक पॉप-आउट ट्रे है जहां आपको ऐप शॉर्टकट मिलेंगे और इसे किसी भी स्क्रीन से लॉन्च किया जा सकता है। जब फोन स्टैंडबाय पर हो तो आप स्क्रीन पर अक्षर यानी जेस्चर बनाकर भी ऐप को खोल सकते हैं।
 

Oppo A5s की परफॉर्मेंस, बैटरी लाइफ और कैमरा

ओप्पो ए5एस में दिए हार्डवेयर को देखते हुए इसकी परफॉर्मेंस अच्छी है। Oppo A5s स्क्रॉलिंग और ऐप को बिना किसी समस्या के खोल लेता है लेकिन मल्टीटास्किंग में यह तेज़ नहीं है। हमने पाया कि फोन को अक्सर ऐप्स को री-लॉन्च करना पड़ता है क्योंकि यह बहुत सारे ऐप्स को बैकग्राउंड में नहीं चल पाता।

Oppo A5s के बैक पैनल पर फिंगरप्रिंट सेंसर दिया गया है। सेंसर तक हाथ आसानी से पहुंच जाता है और यह फोन को तेज़ी से अनलॉक कर देता है। ओप्पो ए5एस में फेस अनलॉक सपोर्ट भी मिलेगा और यह भी तेज़ी से काम करता है। हमें ओप्पो ए5एस की डिस्प्ले तो पसंद आई लेकिन लाउडस्पीकर से आवाज़ थोड़ी धीमी आती है।
 

Oppo

इस प्राइस सेगमेंट में हमने जितने भी अन्य स्मार्टफोन को टेस्ट किया है, उनकी तुलना में Oppo A5s की साउंड क्वालिटी औसत से कम है। Redmi 6 में दिए हीलियो पी22 चिपसेट की तुलना में Oppo A5s में दिया मीडियाटेक हीलियो पी35 प्रोसेसर थोड़ा ज्यादा पावरफुल है। अगर Redmi Y3 (रिव्यू) और Redmi 7 (रिव्यू) में दिए क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 632 प्रोसेसर से तुलना की जाए तो हीलियो पी35 ने सीपीयू और ग्राफिक्स बेंचमार्क में थोड़ा कम स्कोर किया है।

हमने Oppo A5s में PUBG Mobile गेम को खेलकर देखा और यह डिफॉल्ट रूप से लो-सेटिंग पर थी। गेम स्पेस ऐनेबल था इसलिए गेम के लॉन्च होने पर फोन हर बार रैम को क्लियर करता है।

हालांकि, यह गेम को लोड करने में सामान्य से अधिक समय लेता है। हमने पाया कि खेलते समय फोन कभी-कभी धीमा हो जाता था इस कारण गेमिंग के दौरान स्मूथ अनुभव के लिए फ़्रेम रेट को लो पर सेट करना पड़ता था। 20 मिनट PUBG मोबाइल खेलने के बाद हमने पाया कि 4 प्रतिशत बैटरी कम हो गई थी जो स्वीकार्य है।

Oppo A5s में दी गई 4,230 एमएएच की बैटरी बेहतर बैटरी लाइफ देती है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में स्मार्टफोन ने 24 घंटे से थोड़े कम समय तक साथ दिया। हमने फोन को सामान्य तरीके से इस्तेमाल किया जैसे कि PUBG Mobile को खेला, WhatsApp को इस्तेमाल किया और नेविगेशन के लिए गूगल मैप्स का इस्तेमाल किया। इन सब के बाद भी ओप्पो ए5एस ने दो दिनों तक साथ दिया।
 

oppo
oppo
oppo
oppo

फोन के साथ मिलने वाला चार्जर फोन को पूरा चार्ज करने में दो घंटे से अधिक समय लेता है। Oppo A5s में दो रियर कैमरे हैं, अपर्चर एफ/2.2 वाला 13 मेगापिक्सल का प्राइमरी सेंसर और 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर मिलेगा जिसका अपर्चर एफ/2.4 है। सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है जिसका अपर्चर एफ/2.0 है।

हमने पाया कि Oppo A5s का कैमरा ऐप इस्तेमाल करने में काफी आसान है। स्टैंडर्ड फोटो और वीडियो मोड के अलावा ओप्पो ए5एस में पोर्टेट और पैनो मोड दिए गए हैं। डिफॉल्ट मोड में आपको फ्लैश, एचडीआर, टाइमर और फ्लिटर के लिए बटन मिलेंगे जिनकी मदद से आप तस्वीर खींचने से पहले इन्हें अप्लाई कर सकेंगे। इसके अलावा फेस ब्यूटी बटन भी दिया गया है। 2x डिज़िटल ज़ूम बटन भी दिया गया है।

दिन की रोशनी में Oppo A5s लाइट को सही से कैप्चर कर लेता है और तस्वीरों में एक्सपोज़र भी सही आता है। मैक्रो शॉट लेते समय ओप्पो ए5एस तेज़ी से फोकस करता है। यह सब्जेक्ट और बैकग्राउंड के बीच अंतर बनाए रखता है। मैक्रो शॉट में डिटेल औसत आई और तस्वीरें भी ज्यादा शार्प नहीं थी। पोर्ट्रेट मोड में तस्वीरें खींचते समय हमने पाया कि एज डिटेक्शन अनुकूल नहीं था।

लो-लाइट में कैमरा परफॉर्मेंस कुछ खास अच्छी नहीं आई। फोन फोकस लॉक करने में ज्यादा समय लेता है जिस वज़ह से तस्वीरों में ब्राइटनेस की कमी लगती है। Oppo A5s नॉयस को तो कंट्रोल में रखता है लेकिन ज़ूम करने पर ग्रेन दिखते हैं और डिटेल की भी कमी लगी। ओप्पो ए5एस से खींची गई सेल्फी में डिटेल अच्छे से कैप्चर हुई और फोन एक्सपोज़र को सही से मैनेज़ कर लेता है।

प्राइमरी और फ्रंट कैमरे दोनों ही अधिकतम 1080p रिजॉल्यूशन पर वीडियो रिकॉर्डिंग करने में सक्षम है। लेकिन Oppo A5s में वीडियो स्टेबलाइजेशन नहीं दिया गया है।
 

हमारा फैसला

Oppo A5s को भारत में 10,000 रुपये से कम के प्राइस सेगमेंट में उतारा गया है। इस सेगमेंट में ओप्पो ब्रांड के इस स्मार्टफोन को कड़ी चुनौती मिलेगी। ओप्पो ए5एस की खासियत इसकी बैटरी लाइफ है। हमने पाया कि कैमरा परफॉर्मेंस अनुकूल है लेकिन इस प्राइस सेगमेंट में हमने इससे बेहतर भी देखा है। इस सेगमेंट में Oppo A5s में सिर्फ 2 जीबी रैम मार्केट में मौजूद अन्य विकल्पों की तुलना में कम है।

अगर आप अपने स्मार्टफोन में गेमिंग खेलने के शौकीन नहीं हैं और आप बैटरी लाइफ को महत्व देते हैं तो Oppo A5s आपके लिए एक अच्छा फोन साबित हो सकता है। लेकिन यदि आपके लिए परफॉर्मेंस महत्व रखती है तो समान प्राइस सेगमेंट में Xiaomi Redmi Note 7 (रिव्यू) और Asus ZenFone Max Pro M2 (रिव्यू) स्मार्टफोन आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकते हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *